11:48 AM | Monday, March 4, 2024
lang logo

रीसेंट आर्टिकल्स

अंतरराष्ट्रीय पोषक अनाज वर्ष-2023 की पंजाब में शुरुआत

International Nutritious Cereal, चंडीगढ़ : विश्व में मोटे अनाज की खपत और पैदावार बढ़ाने को लेकर भारत की पहल पर संयुक्त राष्ट्र द्वारा घोषित ‘अंतरराष्ट्रीय पोषक अनाज(मिलेट) वर्ष (आईएमवाई)-2023’ की आज पंजाब में भी शुरुआत की गई। पंजाब के राज्यपाल और केंद्र शासित क्षेत्र चंडीगढ़ के प्रशासक बनवारी पुरोहित ने इस अवसर पर राजभवन में चंडीगढ़ शहर के विशिष्ट लोगों के लिये मिलेट लंच का आयोजन किया जिसमें प्रशासक की नवगठित सलाहकार परिषद के सदस्यों सहित शहर के जाने-माने लोग, नौकरशाह, राजनेता, उद्योगपति, डॉक्टर, शिक्षाविद् आदि ने भाग लिया।

इस अवसर पर मीडिया से बातचीत में पुरोहित ने बताया कि मिलेट को बढ़ावा देना देश के पोषण कार्यक्रमों के लिए एक महत्वपूर्ण मोड़ हो सकता है। मिलेट ‘स्मार्ट फूड’ हैं क्योंकि इनकी खेती करना आसान है, ये ज्यादातर जैविक हैं और इनमें उच्च पोषण तत्व होते हैं। मिलेट उपभोक्ताओं, किसानों, जलवायु मैत्री और स्वास्थय के लिये अच्छे हैं क्योंकि इनकी पैदावार की लागत कम होने के साथ ही इनकी पैदावार के लिये ज्यादा पानी की जरूरत नहीं होती। मिलेट के प्रति जागृति पैदा करना अनिवार्य है। उन्होंने मिलेट को दैनिक आहार में शामिल करने और इसके लाभों के बारे में जागरुकता फैलाने पर जोर दिया।

- Advertisement -

पुरोहित ने चंडीगढ़ में मिलेट को लोकप्रिय बनाने के लिए उठाये गये कदमों के बारे में बताया कि ज्वार बाजरा को सभी 450 आंगनबाड़ी केंद्रों में बच्चों के लिए पूरक पोषाहार कार्यक्रम में शामिल किया गया है। इसके अंतर्गत वर्तमान में बच्चों को मिलेट से तैयार खिचड़ी और दलिया परोसा जा रहा है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता नियमित रूप से मिलेट से तैयार व्यंजनों के स्टॉल लगाकर इनके प्रति जागरुकता फैलाने को लेकर विभिन्न समुदायों के सदस्यों को संगठित कर रही हैं। ‘पोषण माह-2022’ के दौरान, मिलेट से तैयार व्यंजनों को प्रदर्शित करने के लिए आंगनबाड़ी केंद्रों में 200 से अधिक जागरुकता गतिविधियों का आयोजन किया गया। उन्हाेंने कहा कि चंडीगढ़ प्रशासन का सामाजिक कल्याण विभाग पीजीआई, होम साइंस कॉलेज, डायटिशियन, जीएमएस अस्पताल-16, जीएमसी अस्पताल-32 चंडीगढ़ के साथ मिलकर काम कर रहा है ताकि लोगों को उनके दैनिक आहार में मिलेट्स को शामिल करने हेतु जागरूक किया जा सके।

इस उद्देश्य के लिए, विभिन्न होटल प्रबंधन संस्थानों के रसोइयों ने लोगों के सामने मिलेट्स से तैयार व्यंजन पेश किये हैं। राज्यपाल ने कहा कि नियमित आहार में मिलेट के उपयोग सम्बंधी जनता के बीच जागरुकता फैलाने के लिए शहर में मिलेट के उपभोग को बढ़ावा देने के लिए ‘चंडीगढ़ मिलेट मिशन’ शुरू किया गया है और ऐसा करने वाला चंडीगढ़ उत्तर भारत का पहला शहर बन गया है।

- Advertisement -

इस अभियान के तहत, पीजीआईएमईआर, चंडीगढ़ के सहयोग से आंगनबाड़ी केंद्रों के सभी सर्किलों में ज्वार, रागी, कोदो बाजरा, छेना बाजरा जैसे मिलेट से व्यंजन तैयार करने के लिए लाइव किचन सत्र जैसी विभिन्न गतिविधियां आयोजित की जा रही हैं। इसके अलावा इस कार्यक्रम के तहत लाभार्थियों के बीच ई-गोष्ठी, अम्मा/बाबा की रसोई, पाक प्रतियोगिताएं, ई-क्विज के इंटरैक्टिव सत्र भी आयोजित किए जा रहे हैं। राज्यपाल के अनुसार चंडीगढ़ अतिथि गृह में मिलेट थाली और मिलेट स्नैक्स वाले मिलेट मेन्यू की शुरुआत की गई है।

उन्होंने कहा कि मिलेट के उपयोग में वृद्धि से न केवल पोषण की स्थिति में सुधार सुनिश्चित होगा, बल्कि इससे जलवायु परिवर्तन से लड़ने में भी मदद मिलेगी क्योंकि ये परिस्थिति अनुकूल फसलें हैं और जितना समय गेहूं को पकने में लगता है उसके आधे समय में ये तैयार हो जाती हैं, इसके प्रसंस्करण के लिए 40 प्रतिशत कम ऊर्जा की आवश्यकता होती है, और धान के मुकाबले 70 प्रतिशत कम पानी का उपयोग करती हैं। ये फसलें जलवायु परिवर्तन, पानी की कमी और सूखे की परिस्थितियों के चलते, ये स्थायी खाद्य सुरक्षा प्रदान करने के लिए उच्च पोषण गुण के साथ वन-स्टॉप सोल्यूशन प्रदान करती हैं।

- Advertisement -

Read: कीव में नागरिकों से बिजली की खपत में कटौती करने की अपील

- Advertisement -

रिलेटेड आर्टिकल्स

Latest Posts

जरुर पढ़ें

बुध प्रदोष व्रत 2023: जानिए तिथि, पूजा का समय, पूजा विधि और महत्व

Budh Pradosh Vrat 2023: प्रदोष को मुख्य और महत्वपूर्ण हिंदू व्रतों में से एक माना जाता है और पवित्र दिन भगवान शिव और देवी...

सपा विधायक, उसके भाई ने कानपुर आयुक्तालय में किया आत्मसमर्पण

कानपुर 02 दिसंबर (वार्ता): उत्तर प्रदेश के कानपुर (Kanpur) में सीसामऊ विधानसभा से समाजवादी पार्टी के विधायक और उसके भाई के साथ पुलिस के...

સુરત શહેરમાં અલગ અલગ પોલીસ સ્ટેશનમાં નોંધાયેલા ઘરફોડ ચોરીના કુલે 6 જેટલા ગુનાનો ભેદ ઉકેલાયો

સુરત: પાંડેસરા પોલીસની પ્રસનીય કામગીરી. સુરત શહેરના અલગ અલગ પોલીસ સ્ટેશનમાં નોંધાયેલા ઘરફોડ ચોરીના કુલ 6 જેટલા ગુનાનો ભેદ ગણતરીના દિવસોમાં ઉકેલી કાડતી પાંડેસરા...

राजस्थान में पेट्रोलियम क्षेत्र में 6200 करोड़ का नया निवेश : अग्रवाल

जयपुर,01 जनवरी (वार्ता)- राजस्थान में पेट्रोलियम क्षेत्र में करीब 6200 करोड़ का नया निवेश किया जा चुका हैं। प्रदेश में चार निवेशकों द्वारा 22838...

गया: पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने महाबोधि मंदिर में की पूजा-अर्चना

रामनाथ कोविंद, 02 दिसंबर (वार्ता) पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शुक्रवार को भगवान बुद्ध की ज्ञानस्थली बोधगया में 17वें अंतरराष्ट्रीय त्रिपिटक समारोह का शुभारंभ...

संपर्क में रहे

सभी नवीनतम समाचारों, ऑफ़र और विशेष घोषणाओं से अपडेट रहने के लिए।

सबसे लोकप्रिय