12:30 PM | Tuesday, February 27, 2024
lang logo

रीसेंट आर्टिकल्स

वाहन बिक्री, GST आंकड़े और कोरोना के रुख का बाजार पर रहेगा असर

मुंबई,01 जनवरी (वार्ता)-चीन में बाहर से आने वाले यात्रियों के लिए काेरोना प्रतिबंध में ढील दिये जाने की घोषणा से उत्साहित निवेशकों की दमदार लिवाली की बदौलत बीते सप्तह 1.7 प्रतिशत की छलांग लगा चुके घरेलू शेयर बाजार पर अगले सप्ताह दिसंबर की वाहन बिक्री एवं वस्तु एवं सेवा कर (GST) आंकड़ा, रूस-यूक्रेन तनाव, कोरोना संक्रमण के प्रसार और विदेशी संस्थागत निवेशकों (FII) के रुख का असर रहेगा।
बीते सप्ताह BSE का तीस शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 995.45 अंक अर्थात 1.7 प्रतिशत की उछाल लेकर सप्ताहांत पर 60840.74 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) का निफ्टी 298.5 अंक यानी 1.7 प्रतिशत की तेजी के साथ 18105.30 अंक पर रहा। समीक्षाधीन सप्ताह बीएसई की दिग्गज कंपनियों के मुकाबले मझौली और छोटी कंपनियों में लिवाली की रफ्तार अधिक तेज रही।

बाजार में पिछले सप्ताह पिछले तीन सप्ताह की गिरावट पर ब्रेक लगा

इससे मिडकैप 887.71 अंक की छलांग लगाकर 25314.50 अंक और स्मॉलकैप 1674.11 अंक की उड़ान भरकर 28926.79 अंक पर पहुंच गया। विश्लेषकों के अनुसार, बाजार में पिछले सप्ताह पिछले तीन सप्ताह की गिरावट पर ब्रेक लगा और सेंसेक्स और निफ्टी दोनों में करीब दो प्रतिशत की वृद्धि दर्ज हुई। दुनिया भर में कोविड संक्रमण के मामले बढ़ने और रूस-यूक्रेन संकट के बीच निकट भविष्य में बाजार में अस्थिरता अधिक रहने की संभावना है।
साथ ही केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के वर्ष 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले पेश होने वाला अंतिम बजट सत्र, कंपनियों के चालू वित्त वर्ष की चौथी तिमाही के परिणाम, दिसंबर के वाहन बिक्री और GST के जारी होने वाले आंकड़ों की अगले सप्ताह बाजार की दिशा निर्धारित करने में महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी। इसके अलावा, इसके अलावा कच्चे तेल की कीमतों में उतार-चढ़ाव और डॉलर सूचकांक भी अगले सप्ताह बाजार की दिशा निर्धारित करने वाले अन्य महत्वपूर्ण कारक होंगे।
साथ ही FII के निवेश प्रवाह पर भी बाजार की नजर रहेगी। एफआईआई ने पिछले वर्ष दिसंबर में कुल 139,091.40 करोड़ रुपये की लिवाली जबकि कुल 153,322.49 करोड़ रुपये की बिकवाली की है। उन्होंने बाजार से 14,231.09 करोड़ रुपये निकाल लिए।हालांकि, इस अवधि में घरेलू संस्थागत निवेशकों (DII) की निवेश धारणा मजबूत रही है। उन्होंने बाजार में कुल 136,300.97 करोड़ रुपये का निवेश किया जबकि 112,141.84 करोड़ रुपये निकाल लिए, जिससे वह 24,159.13 करोड़ रुपये के लिवाल रहे।
- Advertisement -

रिलेटेड आर्टिकल्स

Latest Posts

जरुर पढ़ें

राजस्थान: हनुमानगढ़ के स्कूल में दूध पीने से दो दर्जन बालिकाओं की तबीयत बिगड़ी

तबीयत बिगड़ी,02 दिसंबर (वार्ता)। राजस्थान में मुख्यमंत्री द्वारा बाल गोपाल दूध योजना लागू होने के चौथे दिन बाद ही हनुमानगढ़ टाउन के एक सरकारी...

पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन कोरोना पॉजिटिव

वाशिंगटन, 01 दिसंबर (वार्ता) :अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन (76) ने कहा है कि वह कोविड परीक्षण में पॉजिटिव पाए गए हैं। पूर्व...

चीन में कोरोना के 4,233 नए मामलों की पुष्टि

बीजिंग, 02 दिसंबर (वार्ता): चीन में कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण के 4,233 नए मामले सामने आए हैं। राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने शुक्रवार को यह जानकारी...

खरगोन: महिला की निर्मम हत्या

खरगोन, 02 जनवरी (वार्ता): मध्यप्रदेश के खरगोन जिले के बिस्टान थाना क्षेत्र के मेहर घट्टी गांव में आज 36 वर्षीय महिला की निर्मम हत्या...

आईआईटी-मद्रास, डीआरडीओ उन्नत रक्षा प्रौद्योगिकी पर कर रहे हैं काम

IIT-Madras (02 जनवरी): भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मद्रास (आईआईटी-मद्रास) देश की राष्ट्रीय रक्षा और सुरक्षा जरूरतों के लिए उन्नत प्रौद्योगिकियों को विकसित करने के लिए...

संपर्क में रहे

सभी नवीनतम समाचारों, ऑफ़र और विशेष घोषणाओं से अपडेट रहने के लिए।

सबसे लोकप्रिय