8:39 AM | Tuesday, June 18, 2024
lang logo

रीसेंट आर्टिकल्स

भाजपा विधायक पर व्यवसायी को आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज

BJP MLA, बेंगलुरु 02 जनवरी (वार्ता) : कर्नाटक के पूर्व मंत्री और राज्य में सत्तारुढ़ भारतीय जनता पार्टी के विधायक अरविंद लिंबावली पर एक व्यापारी को आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज किया गया है। व्यवसायी प्रदीप ने खुद को गोली मार ली, लेकिन आत्महत्या से पहले, उसने कथित तौर पर एक सुसाइड नोट लिखा जिसमें श्री लिंबावली सहित छह लोगों के नाम का उल्लेख करते हुए उन पर उत्पीड़न का आरोप लगाया। पुलिस ने अन्य आरोपियों के़ गोपी, सोमैया, जी़ रमेश रेड्डी, जयराम रेड्डी और राघव भट पर भी मामला दर्ज किया है।

BJP MLA

पुलिस ने सोमवार को लिंबावली के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 306 (आत्महत्या के लिए उकसाना) के तहत प्राथमिकी दर्ज की। प्रदीप रविवार को नए साल का जश्न मनाने के लिए अपने परिवार के साथ रामनगर में नेटटागेरे के पास एक रिसॉर्ट में गए थे। पुलिस ने कहा कि बीच में, प्रदीप बेंगलुरु आवास लौट आया और रिजॉर्ट लौटने पर अपनी कार में खुद को सिर में गोली मारने से पहले सुसाइड नोट लिखा। नोट में उन्होंने पुलिस से आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू करने और उन्हें उनकी मौत के लिए जिम्मेदार ठहराने की अपील की है। प्रदीप ने यह भी आरोप लगाया कि उन्होंने 2018 में एचएसआर लेआउट के हरलूर में एक क्लब खोलने के लिए गोपी और सोमैया से संपर्क किया था। उन्होंने आरोप लगाया,“दोनों ने मुझसे वादा किया कि वे मुझे मुनाफे में से तीन लाख रुपये और क्लब में काम करने के लिए प्रति माह पारिश्रमिक के रूप में 1.5 लाख रुपये देंगे। मैं इसके लिए सहमत हो गया और मई 2018 से दिसंबर 2018 तक बैंक में एक करोड़ रुपये जमा किए।

- Advertisement -

” प्रदीप ने कहा कि उसने मैसूर में अपना घर बेच दिया और दोनों को 40 लाख रुपये नकद दिए। उसने कहा,“उन्होंने मुझे उद्यम में भागीदार बनाने का वादा किया था, लेकिन आज तक, उन्होंने मुझे एक पैसा नहीं दिया है। जब मैं विधायक के पास गया, तो मुझे समझौते के बहाने नौ महीने के लिए एक लाख रुपये देने पड़े। मुझे बताया गया कि 90 लाख रुपये बाद में वापस कर दिए जाएंगे।” प्रदीप ने आरोप लगाया कि कर्ज में डूबे रहने के दौरान उन्हें लिंबावली से मदद नहीं मिली। उन्होंने कहा,“मैंने रमेश रेड्डी से 10 लाख रुपये का ऋण लिया था। मैंने अपनी कृषि संपत्ति बेचकर 35 लाख रुपये वापस कर दिए हैं। हालांकि, वे और पैसे वसूलने की धमकी दे रहे हैं। राघव भट्ट ने मुझसे 20 लाख रुपये लिए हैं। लेकिन उसमें से आजतक उन्होंने एक पैसा भी नहीं चुकाया है।” गौरतलब है कि मृतक प्रदीप का शव नेटीगेरे गांव में एक कार में मिला, जिसके सिर में गोली के निशान थे।

यह भी पढ़ें : कांग्रेस अधिवेशन 24 से 26 फरवरी तक रायपुर में होगा

- Advertisement -

रिलेटेड आर्टिकल्स

Latest Posts

जरुर पढ़ें

नई दिल्ली: लाहोटी ने संभाला रेलवे बोर्ड केअध्यक्ष, सीईओ का पद

नई दिल्ली, 01 जनवरी (वार्ता)- रेलवे बोर्ड में सदस्य अनिल कुमार लाहोटी ने आज रेलवे बोर्ड के नये अध्‍यक्ष और मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी का...

हरियाणा के खेल मंत्री संदीप सिंह पर यौन उत्पीड़न का आरोप, दिया इस्तीफा

Sandeep Singh: चंडीगढ़ पुलिस ने एक महिला कोच की शिकायत पर यौन उत्पीड़न और गलत तरीके से बंधक बनाकर रखने के आरोप में हरियाणा...

Gujarat election 2022: गुजरात की 89 सीटों के लिए मतदान शुरू

Gujarat election 2022, 01 दिसंबर (वार्ता): गुजरात में विधानसभा चुनाव के पहले चरण में सौराष्ट्र-कच्छ और दक्षिण गुजरात के 19 जिलों के 89 सीटों...

चीन में कोरोना के 4,233 नए मामलों की पुष्टि

बीजिंग, 02 दिसंबर (वार्ता): चीन में कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण के 4,233 नए मामले सामने आए हैं। राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने शुक्रवार को यह जानकारी...

टी20 विश्व कप: अजय को तीसरा टी20 दृष्टिबाधित विश्व कप जीतने की उम्मीद

टी20 विश्व कप, 01 नवंबर (वार्ता) दो बार के टी20 विश्व चैंपियन भारतीय दृष्टिबाधित क्रिकेट टीम के कप्तान अजय कुमार रेड्डी ने गुरुवार को...

संपर्क में रहे

सभी नवीनतम समाचारों, ऑफ़र और विशेष घोषणाओं से अपडेट रहने के लिए।

सबसे लोकप्रिय