11:47 AM | Wednesday, June 19, 2024
lang logo

रीसेंट आर्टिकल्स

बकाया जल प्रभार राशि एकमुश्त जमा कराने पर ब्याज एवं शास्ति में छूट

जयपुर : राजस्थान सरकार ने राज्य की समस्त शहरी एवं ग्रामीण जल प्रदाय योजनाओं के समस्त श्रेणी के उपभोक्ताओं के 31मार्च 2022 तक के बकाया जल प्रभार शुल्क की बकाया राशि 31 मार्च 2023 तक जमा कराने पर इस पर लगने वाले ब्याज एवं शास्ति में शत प्रतिशत छूट प्रदान की है।

जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री डॉ. महेश जोशी के निर्देशों के बाद इस संबंध में सोमवार को विभाग के संयुक्त सचिव ने आदेश जारी कर दिए हैं।

- Advertisement -
जल प्रभार राशि एकमुश्त जमा कराने पर ब्याज एवं शास्ति में छूट

डॉ. जोशी ने कहा कि राज्य सरकार के संवेदनशील निर्णय से बकाया जल प्रभार की राशि जमा कराने वाले शहरी एवं ग्रामीण उपभोक्ताओं को राहत मिलेगी।

Read: पाकिस्तान में सड़क दुर्घटना में सात की मौत, पांच घायल

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

रिलेटेड आर्टिकल्स

Latest Posts

जरुर पढ़ें

पदोन्नति लाभ नहीं देने पर 6 सहायक प्रोफेसरों का धरना 7वें भी रहा जारी

जयपुर 01 जनवरी (वार्ता)-राजस्थान विश्वविद्यालय राज्य सरकार के आदेश के बावजूद छह सहायक प्रोफेसरों को पदोन्नति का लाभ नहीं देने पर इन शिक्षकों का...

जम्मू -श्रीनगर हाईवे खुलने के आसार आज भी कम

जम्मू : प्री मानसून की झमाझम बारिश जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर सफर करने वाले यात्रियों के लिए मुश्किलें बनकर खड़ी हो गई हैं। साथ...

पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन कोरोना पॉजिटिव

वाशिंगटन, 01 दिसंबर (वार्ता) :अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन (76) ने कहा है कि वह कोविड परीक्षण में पॉजिटिव पाए गए हैं। पूर्व...

नड्डा ने जयपुर में राममंदिर में दर्शन एवं गुरुद्वारा में टेका मत्था

जयपुर 01 दिसंबर (वार्ता) : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा एक दिवसीय यात्रा पर आज जयपुर पहंचे जहां वह...

जौनपुर में पीएम आवास के अपात्रों को क़िस्त देने वाले तीन ग्राम विकास अधिकारी निलम्बित

जौनपुर , 01दिसंबर (वार्ता): जौनपुर जिले में प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत अपात्रों को किस्त देने के आरोप में तीन ग्राम विकास अधिकारियों को...

संपर्क में रहे

सभी नवीनतम समाचारों, ऑफ़र और विशेष घोषणाओं से अपडेट रहने के लिए।

सबसे लोकप्रिय